जब हम पढेया करते थे Jab Hum Padheya Karte The Song Lyrics Hindi स्पीड रिकॉर्ड्स और सुख वर्मा प्रस्तुत परमिश वर्मा फिल्म के साथ गीत...

Jab Hum Padheya Karte The Song Lyrics hindi

जब हम पढेया करते थे Jab Hum Padheya Karte The Song Lyrics Hindi



स्पीड रिकॉर्ड्स और सुख वर्मा प्रस्तुत परमिश वर्मा फिल्म के साथ
गीत - जब हम पढेया करते थे 

Jab Hum Padheya Karte The Song Lyrics hindi


गायक - परमिश वर्मामहिला लीड - सोनाली सयगलसंगीत - देसी क्रूगीत - जिमी कोटकपूरामिक्स एंड मास्टर - समीर चरेगांवकरडीओपी - संदीप पाटिलसंपादित करें और ग्रेडिंग - मोंटीबाल - अजय सेनपब्लिसिटी डिज़ाइन - द टाउन मीडियालाइन निर्माता - कुलदीप
एडिट बाय बिहाइंड - रॉबिम कलसी
संकल्पना, पटकथा और निर्देशन - परमिश वर्मा
लेबल - स्पीड रिकॉर्ड
विशेष धन्यवाद - उदय प्रताप, युग और सवियो, अमित कुमार, लाडली चहल

lyrics


जब हम पढेया करते थे ...
 मोड़ो पे खडेया करते थे ... 
जब हम पढेया करते थे ... 
मोड़ो पे खडेया करते थे ...
 आते जाते लोगों की, नज़रों में चढ़ेया करते थे …
 (2)
 हो जब हम पढेया करते थे ...
 मोड़ो पे खडेया करते थे ...
 आते जाते लोगों की, नज़रों में चढ़ेया करते थे …
 हो इतने वि नहीं माड़े थे , 
लुक् लुक के वेखन ला लेई सी,
 हो सारी क्लास दी टॉपर, 
मैं पिछे बैठण ला लेइ सी || 
(2)
 वोह हर कामो में मुरे थी, 
हम हर कामों में भाड़ी,
 वोह सबक मुका के बे जाती,
 हम पेंसिल खडेया करते थे ... 
हो जब हम पढेया करते थे ...
 मोड़ो पे खडेया करते थे ... 
आते जाते लोगों की, नज़रों में चढ़ेया करते थे …
 हो जब हम पढेया करते थे ... 
मोड़ो पे खडेया करते थे ...

 वो बाहली हट्टी कट्टी थी, 
एको घण्टे में पट्टी थी,
 हो बस एक पेटी की मार थी,
 वो बस अड्डे पे हट्टी थी ||
 (2)
 हो मुनु मिल्न लेइ वोह पार्क वाले,
 कू के पीछे आती थी,
 गोल्डी सत्ता जिम्मी लाडी, मुफ्त में सडेया करते थे ... 
हो जब हम पढेया करते थे ... 
मोड़ो पे खडेया करते थे ... 
आते जाते लोगों की, नज़रों में चढ़ेया करते थे … 
हो जब हम पढेया करते थे ... 
मोड़ो पे खडेया करते थे ... 
हो छोटी छोटी बातों पर ,
 इक चा जैसा चढ जाता था, 
एक चाकनी में ही कमला, 
दिल फीलिंग फड़ जाता था || 
(2)
 सबका सच्चा प्यार थी वो ,
 लख भुलाया भुल्लदी नै, 
तड़के तड़के जिहदे लेई, 
पाले में ठरेया करते थे ... 
हो जब हम पढेया करते थे ... 
मोड़ो पे खडेया करते थे ... 
आते जाते लोगों की, नज़रों में चढ़ेया करते थे … 
हो जब हम पढेया करते थे ... 
मोड़ो पे खडेया करते थे ...

0 comments: