भारत में कोरोना केस टर्की से ज्यादा हुए पहुंचा 9 वें नंबर पर

भारत में कोरोना केस टर्की से ज्यादा हुए पहुंचा 9 वें नंबर पर 


अब तक दुनिया में कुल कोरोना केस 5.8 million 3 लाख 62  हजार से ज्यादा मौतें और 2.5 million लोग ठीक हुए 

देश और कोरोना केस 

अमेरिका- 17 लाख +
ब्राजील -4 लाख 38 हजार 
रूस -3 लख 80 हजार 
UK-2लख 70 हजार 
स्पैन -2 लाख 37 हजार 
इटली -2 लाख 31 हजार 
फ़्रांस -1 लाख 86 हजार 
जर्मनी - 1 लाख 82 हजार 
भारत - 1 लाख 65 हजार 
तुर्की - 1 लाख 61 हजार 
ईरान - 1 लाख 43 हजार 
पेरू - 1 लाख 41 हजार 
कनाडा - 89 हजार 




भारत में राज्यों के हाल 

Maharashtra
 केस 56,948
मौते 1,897

Tamil Nadu
केस 18,545
मौते 133


Delhi
केस 15,257
मौते 303

Gujarat
केस 15,195
मौते 938

Rajasthan
केस 7,703
मौते 173


Madhya Pradesh
केस 7,261
मौते 313

Uttar Pradesh
केस 6,991
मौते 182


West Bengal
केस 4,192
मौते 289

Andhra Pradesh
केस 3,171
मौते 58

Bihar
केस 3,061
मौते 15

Karnataka
केस 2,418
मौते 47

Punjab
केस 2,139
मौते 40

Telangana
केस 2,098
मौते 63

Jammu and Kashmir
केस 1,921
मौते 26

Odisha
केस 1,593
मौते 7

Haryana
केस 1,381
मौते 18

Kerala
केस 1,004
मौते 7

कैसा होगा लॉकडाउन 5.0

लॉकडाउन 5.0 पर मंथन, अमित शाह ने की सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात


केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लॉकडाउन-4 पर गुरुवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की. उन्होंने लॉकडाउन 4.0 को लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के विचार जाने. अमित शाह ने लॉकडाउन 4.0 के वर्तमान हालात पर चर्चा की. गृह मंत्री ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से 31 मई के बाद लॉकडाउन पर उनके राज्यों की क्या राय है और आगे वह क्या सोचते हैं इसपर उनके विचार जाने. बता दें कि लॉकडाउन-4 की अवधि 31 मई को खत्म हो रही है. क्या देश में लॉकडाउन 5.0 लागू होगा, फिलहाल सबकी नजर इसपर है.

हालांकि, सरकार का लॉकडाउन 5.0 पर मंथन जारी है. लॉकडाउन चार के खत्म होने के पहले ही लॉकडाउन-5 की आहट सुनाई देने लगी है. 31 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मन की बात करेंगे. सूत्रों का कहना है कि मन की बात में पीएम मोदी बहुत कुछ साफ कर सकते हैं. वैसे सूत्रों का यही कहना है कि दो हफ्ते के लिए लॉकडाउन का बढ़ना लगभग तय है.


सरकार ज्यादा छूट देकर अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की कोशिश करती दिख रही है. लेकिन जो जिले कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं उन्हें इस बार भी राहत मिलने की उम्मीद कम है. सूत्रों के मुताबिक, लॉकडाउन 5 में 11 शहरों पर सख्ती जारी रहेगी. ये वो शहर हैं जहां कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

इन शहरों में जारी रह सकती है पाबंदी

जिन शहरों में पाबंदी जारी रह सकती है वो दिल्ली, मुंबई, बैंगलुरू, पुणे, ठाणे, इंदौर, चेन्नई, अहमदाबाद, जयपुर, सूरत और कोलकाता हैं. इन 11 शहरों में भारत में कुल कोरोना संक्रमित केस के 70 फीसदी मामले मिले हैं, जबकि अहमदाबाद, दिल्ली, पुणे, कोलकाता और मुंबई में ये और खतरनाक है. यहां देश के कुल मरीजों के 60 फीसदी लोग पाए गए हैं.



लॉकडाउन के पांचवें चरण में केंद्र की ओर से धार्मिक स्थलों को खोलने की छूट दी जा सकती है, लेकिन नियम और शर्तें लागू रहेंगी. लॉकडाउन 5.0 के दौरान सभी जोन में सैलून और जिम को खोलने की इजाजत दी जा सकती है, सिर्फ कंटेनमेंट जोन छोड़कर. बताया जा रहा है कि शादी और अंतिम संस्कार में कुछ और लोगों को शामिल होने की छूट दी जा सकती है.

लॉकडाउन का चौथा चरण 31 मई को खत्म हो रहा है. इस बीच पांचवें लॉकडाउन की चर्चा शुरू हो गई है. कई मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि लॉकडाउन कुछ और ढील के साथ 15 जून तक बढ़ाया जा सकता है. 28 मई, गुरुवार को कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने सभी राज्यों के मुख्य सचिव और स्वास्थ्य सचिवों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीटिंग की. इस मीटिंग में पहली बार कोरोना से प्रभावित महानगरों के नगर निगम कमिश्नर के भी शामिल होने की बात कही जा रही है.

कोरोना संक्रमण रोकने के लिए 25 मार्च को पूरे देश में लॉकडाउन लगाया गया था. पीएम ने कोरोना से लड़ाई के लिए 21 दिन का समय मांगा था. फिर लॉकडाउन बढ़ता गया और दो महीने से भी ज्यादा हो गया है. वहीं अब पांचवें चरण के लॉकडाउन की चर्चा होने लगी है.

मीडिया रिपोर्ट में क्या कहा गया है?

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, 31 मई को पीएम नरेंद्र मोदी ‘मन की बात’ करेंगे. उम्मीद की जा रही है कि रेडियो प्रोग्राम में पीएम लॉकडाउन 5.0 पर भी बोल सकते हैं. इंडिया टुडे ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि पीएम इस कार्यक्रम में देश के अधिकांश हिस्सों में प्रतिबंधों में ढील देने की घोषणा कर सकते हैं.

इसी तरह की खबर डेक्कन हेराल्ड में छपी है.  इसमें कहा गया है कि लॉकडाउन-5 मुख्य तौर पर 11 शहरों पर फोकस होगा. इनमें दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, पुणे, ठाणे, इंदौर, चेन्नै, अहमदाबाद, जयपुर, सूरत और कोलकाता हैं. इन शहरों में 70 फीसदी से अधिक कोरोना केस हैं. केवल पांच शहरों- अहमदाबाद, दिल्ली, पुणे, कोलकाता, मुंबई में ही 60 फीसदी केस हैं.

लॉकडाउन-5 के लिए किस तरह की बातें हो रही है?

मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि लॉकडाउन के पांचवें चरण में केंद्र की ओर से धार्मिक स्थलों को खोलने की छूट दी जा सकती है, लेकिन नियम और शर्तें लागू रहेंगी. धार्मिक स्थल पर कोई भी मेला या महोत्सव मनाने की छूट नहीं होगी. साथ ही अधिक संख्या में लोग इकट्ठा नहीं होंगे. मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग अनिवार्य होगा. कर्नाटक सरकार ने पहले ही सभी धार्मिक स्थलों को खोलेने की मांग पीएम मोदी से की है. इसके लिए पीएमओ को लेटर भी लिखा है.

लॉकडाउन 5.0 के दौरान कंटेनमेंट जोन छोड़कर, सभी जोन में सैलून और जिम खोलने की इजाजत दी जा सकती है. हालांकि इस चरण में किसी स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी को खोलने की इजाजत नहीं दी जा सकती है. साथ ही मॉल और मल्टीप्लेक्स को भी बंद रखा जा सकता है. शादी और अंतिम संस्कार में कुछ और लोगों को शामिल होने की छूट दी जा सकती है.

गृह मंत्रालय का क्या कहना है?

वहीं एनडीटीवी को एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि कई दिनों से समीक्षा की जा रही है, लेकिन यह एक राजनीतिक फ़ैसला होगा कि राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन कानून को जारी रखना है या राज्यों को एक जून से अंतिम छूट देना है कि वे किस तरह से आगे बढ़ना चाहते हैं. अधिकारी उस डेटा को स्कैन भी कर रहे हैं, जो केंद्र ने स्वतंत्र रूप से एकत्र किया है.

वहीं इस तरह की खबरें सामने आने के बाद गृह मंत्रालय की ओर से बयान आया. कहा गया है कि इस तरह की सारी बातें केवल कयास हैं. इस तरह की खबरें बेबुनियाद हैं. इस तरह की अटकलों को गृह मंत्रालय के साथ जोड़ना उचित नहीं है.


लॉकडाउन आगे बढ़ेगा कि नहीं? अगर बढ़ेगा, तो उसका रंग-रूप कैसा होगा,  ये  31 मई तक ही पता चल पाएगा. इस बीच खबर है कि केंद्र सरकार ने लॉकडाउन-5 के लिए राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से सुझाव मांगे हैं. लॉकडाउन-5 पर सुझाव देने के लिए राज्यों को शनिवार तक का वक्त दिया गया है. इसके अलावा मेट्रो शुरू करने को लेकर राज्यों से केंद्र ने ब्लूप्रिंट मांगा है.

LATEST VIRAL NEWS 


भारत में कोरोना केस टर्की से ज्यादा हुए पहुंचा 9 वें नंबर पर भारत में कोरोना केस टर्की से ज्यादा हुए पहुंचा 9 वें नंबर पर Reviewed by alok kumar on Thursday, May 28, 2020 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.