UP में भीषण हादसा, Delhi से Gorakhpur जा रहे 24 प्रवासी मजदूरों की मौत

UP में भीषण सड़क हादसा, Delhi से Gorakhpur जा रहे 24 प्रवासी मजदूरों की मौत

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में 24 प्रवासी मजदूरों की सड़क दुर्घटना में हुई मौत को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने हत्या करार दिया है. उन्होंने सड़क हादसे पर दुख जाहिर करते हुए अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि सब कुछ जानकर, सब कुछ देखकर भी, मौन धारण करने वाले हृदयहीन लोग और उनके समर्थक देखें कब तक इस उपेक्षा को उचित ठहराते हैं. ऐसे हादसे मृत्यु नहीं हत्या हैं.

up auraiya road accident

UP: औरेया सड़क हादसे में 24 मजदूरों की मौत, CM योगी ने दिए जांच के आदेश
घटना शनिवार तड़के 3.30 तीन बजे की है. 24 मजदूरों की मौत घटनास्थल पर हो गई जबकि कई लोग घायल हो गए. घटना के वक्त अंधेरा था, इसलिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने में काफी दिक्कत आई. प्रशासन के साथ आसपास के लोगों ने मदद की और घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया.
घटनास्थल पर मौजूद पुलिस प्रशासन के अधिकारी (ANI)घटनास्थल पर मौजूद पुलिस प्रशासन के अधिकारी 



नींद में था ट्रक ड्राइवर, डीसीएम में मारी टक्करघटनास्थल पर ही हुई 24 की मौत, कई लोग जख्मी

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में प्रवासी मजदूरों से भरी डीसीएम में ट्रक ने टक्कर मार दी जिससे 24 मजदूरों की मौत हो गई. इस घटना में 15 लोग घायल हैं. घायलों को जिला अस्पताल व सैफ़ई पीजीआई भेजा गया है. जिला प्रशासन के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घायलों को रेस्क्यू कराया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं.

शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक, मजदूरों को लेकर आ रही डीसीएम में ट्रक ने टक्कर मार दी जिसमें 24 लोगों की मौत हो गई जबकि 15 लोग लोग घायल हैं. सभी घायलों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है. डीसीएम सड़क पर खड़ी थी तभी ट्रक ने उसमें टक्कर मार दी. औरेया की एसपी सुनीति सिंह और कई थानों की पुलिस मौके पर मौजूद है. पुलिस राहत और बचाव कार्य में जुटी है. जो लोग गंभीर रूप से घायल हैं उनको कानपुर के हैलट अस्पताल में रेफर किया गया है. घटना को देखते हुए मृतकों की संख्या में इजाफा होने की आशंका जताई जा रही है.


घटना शनिवार तड़के 3.30 तीन बजे की है. 24 मजदूरों की मौत घटनास्थल पर हो गई जबकि कई लोग घायल हो गए. घटना के वक्त अंधेरा था, इसलिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने में काफी दिक्कत आई. प्रशासन के साथ आसपास के लोगों ने मदद की और घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया.
प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर गहरा दुख जताया है और पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना जाहिर की है. मुख्यमंत्री ने सभी घायलों को फौरन उचित इलाज मुहैया कराने का निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री ने कानपुर के कमिश्नर और आईजी को निर्देश दिया के वे घटनास्थल का दौरा करें और जल्द से जल्द घटना के कारणों की रिपोर्ट दें. मुख्यमंत्री ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं.


हाल के दिनों में घटनाएं बढ़ीं

हाल के दिनों में पैदल घर के लिए निकले मजदूरों के साथ कई घटनाएं हुई हैं. दो दिन पहले यूपी के मुजफ्फरनगर और मध्य प्रदेश के गुना में ऐसी ही घटनाएं हुईं जिसमें कई मजदूर मौत के शिकार हुए और कई घायल हुए. शुक्रवार को एक घटना महोबा में सामने आई. महोबा जिले के झांसी-मिर्जापुर हाइवे पर शुक्रवार को गुजरात से झारखंड जा रहा मजदूरों से भरा ट्रक अनियंत्रित होकर हाइवे किनारे पलट गया. इस दुर्घटना में ट्रक पर सवार झारखंड के सभी 67 मजदूर बाल-बाल बच गए. तीन मजदूरों को मामूली चोटें आईं जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया.

इससे पहले मुजफ्फरनगर में बुधवार देर रात 6 मजदूरों की मौत हो गई थी. मजदूरों को कुचलने वाले रोडवेज बस के ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया गया है. मेडिकल रिपोर्ट में पता चला है कि ड्राइवर नशे में था. फिलहाल, पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस का कहना है कि बुधवार रात करीब 22.30 बजे रोहना टोल की तरफ आ रही रोडवेज बस आ रही थी. बस का ड्राइवर नशे में था और बस को तेजी व लापरवाही से चला रहा था. उसने पैदल घर जा रहे मजदूरों को रौंद दिया. इस हादसे में 6 मजदूरों की मौत हो गई, जबकि 4 मजदूर घायल हो गए हैं. दो की हालत गंभीर है.
ऐसा ही एक हादसा आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले में हुआ. यहां पर 30 मजदूरों को ले जा रहा एक ट्रैक्टर हाई टेंशन पोल की चपेट में आ गया. इस हादसे में 9 मजदूरों की मौत हो गई, जबकि कई घायल बताए हैं. घायलों को इलाज के लिए पास के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

क्वारनटीन सेंटर में लड़के को सांप ने काटा, कुछ ही घंटों में हो गई मौत

क्वारनटीन सेंटर में लड़के को सांप ने काटा, कुछ ही घंटों में हो गई मौत 
कोरोना की वजह से लगे लॉकडाउन में प्रवासी मजदूर जब अपने गांव वापस लौटे तो वह खुद ही क्वारनटीन हो गए. गांव के जिस स्कूल में वह क्वारनटीन हुए, उसमें एक 16 साल के लड़के को सांप ने काट लिया जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई. हैरान कर देने वाली यह घटना उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले की है.

boy death by sneck biting in quarenteen centre


क्वारनटीन सेंटर में लड़के को सांप ने काटा, कुछ ही घंटों में हो गई मौत 
लॉकडाउन के दौरान हरियाणा के कैथल से आए लोग घरवालों के सलाह पर गांव के ही स्कूल में खुद क्वारनटीन हुए, जहां गुरुवार रात में एक 16 साल के किशोर को सांप ने काट लिया, जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई.

क्वारनटीन सेंटर में लड़के को सांप ने काटा, कुछ ही घंटों में हो गई मौत 
गोंडा के वजीरगंज ब्लॉक के इमलिया गांव में एक सरकारी जूनियर हाई स्कूल है, जहां गुरुवार को हरियाणा के कैथल से आये लोग अपने गांव में घरवालों की सलाह पर खुद ही क्वारनटीन हो गए जहां रात में एक 16 साल के किशोर महेंद्र कुमार को जहरीले सांप ने काट लिया. सांप के काटते ही वहां हड़कंप मच गया. मौके पर मौजूद लोगों ने सांप को तुरंत मार दिया. 


क्वारनटीन सेंटर में लड़के को सांप ने काटा, कुछ ही घंटों में हो गई मौत 
परिजनों ने बताया कि रात को करीब 12 बजे सांप ने लड़के को काट लिया. सांप ने लड़के की उंगली को पकड़ रखा था. वहीं लड़के ने भी सांप को पकड़ रखा था. उसके बाद एम्बुलेंस को फोन किया गया. वह जब नहीं आई तो खुद ही मोटरसाइकिल से घायल किशोर को जिला अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान शुक्रवार सुबह उसकी मौत हो गई.

UP में भीषण हादसा, Delhi से Gorakhpur जा रहे 24 प्रवासी मजदूरों की मौत UP में भीषण हादसा, Delhi से Gorakhpur जा रहे 24 प्रवासी मजदूरों की मौत Reviewed by alok kumar on Friday, May 15, 2020 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.