कोरोना Coronavirus ने बढ़ाई सरकार की टेंशन

 कोरोना Coronavirus ने बढ़ाई सरकार की टेंशन, कहा- "बद से बदतर हो रहे हालात", समूचा देश जोखिम में

latest news hindi aaj tak in hindi news aaj tak live hindi news aaj tak latest news ibn7 hindi news zee news hindi current samachar hindi me today breaking news in hindi

भारत ने पिछले 24 घंटों में मंगलवार सुबह तक 56,211 नए COVID-19 मामले दर्ज किए, जिससे देश में मामलों की कुल संख्या 1.20 करोड़ हो गई है। कुल मामलों में से, 5.40 लाख एक्टिव हैं जबकि 1.13 करोड़ से अधिक लोग सकारात्मक परीक्षण के बाद ठीक हुए हैं।

कोरोना Coronavirus COVID-19 मामले


केंद्र ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण संबंधी स्थिति ‘‘बद से बदतर हो रही है’’ और यह खास तौर पर कुछ राज्यों के लिए बड़ी चिंता का विषय है.


कोरोना ने बढ़ाई सरकार की टेंशन, कहा- 

देश के किसी भी हिस्से या जिले को लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए

नई दिल्ली : केंद्र ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण संबंधी स्थिति ‘‘बद से बदतर हो रही है’’ और यह खास तौर पर कुछ राज्यों के लिए बड़ी चिंता का विषय है. केंद्र ने कहा कि पूरा देश जोखिम में है और किसी को भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए. इसने कहा कि कोविड-19 से सर्वाधिक प्रभावित 10 जिलों में से आठ महाराष्ट्र (Maharashtra) से हैं और दिल्ली (Delhi) भी एक जिले के रूप में इस सूची में शामिल है. 

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :



स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जिन दस जिलों में सर्वाधिक उपचाराधीन मामले हैं, उनमें पुणे (59,475), मुंबई (46,248), नागपुर (45,322), ठाणे (35,264), नासिक (26,553), औरंगाबाद (21,282), बेंगलुरु नगरीय (16,259), नांदेड़ (15,171), दिल्ली (8,032) और अहमदनगर (7,952) शामिल हैं. 

भूषण ने कहा कि तकनीकी रूप से दिल्ली में कई जिले हैं, लेकिन इसे एक जिले के रूप में लिया गया है. 

नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) वी के पॉल ने कहा, ‘‘कोविड-19 संबंधी स्थिति बद से बदतर हो रही है. पिछले कुछ सप्ताह में, खासकर कुछ राज्यों में, यह एक बड़ी चिंता विषय है. किसी भी राज्य, देश के किसी भी हिस्से या जिले को लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए.'' 

उन्होंने कहा, ‘‘हम काफी अधिक गंभीर स्थिति का सामना कर रहे हैं, निश्चित तौर पर कुछ जिलों में, लेकिन पूरा देश जोखिम में है, इसलिए रोकने (संक्रमण के प्रसार को) और जीवन बचाने के सभी प्रयास किए जाने चाहिए.'' 

पॉल ने कहा, ‘‘अस्पताल और आईसीयू संबंधी तैयारियां तैयार रहनी चाहिए. यदि मामले तेजी से बढ़े तो स्वास्थ्य देखरेख प्रणाली चरमरा जाएगी.''

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि देश मे बहुत लोगों को लगता है कि कोविड वायरस के खिलाफ वैक्सीन आ गयी है. अब सब ठीक हो गया है यानी लोग कोरोना को अब गंभीरता से नहीं ले रहे हैं. लोग कोविड-19 को हल्के में ले रहे हैं. सुपर स्प्रेडर इवेन्ट्स हो रहे हैं.

कोराना के खिलाफ तैयारी का जिक्र करते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि 20 लाख बेड बनाए गए हैं. भारत सरकार सभी केस को गहराई से देख रही है. पिछले हफ्ते 47 जिलों के साथ मीटिंग हुई थी.

दिल्ली में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के चलते कुछ बड़े प्राइवेट अस्पतालों में ICU और वेंटिलेटर बेड्स की किल्लत हो गई है. इस स्थिति को देखते हुए दिल्ली सरकार ने कहा है ' दिल्ली में बेड की उपलब्धता की समीक्षा की जाएगी और बेड्स का इंतज़ाम किया जाएगा.' 

कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर, मध्य प्रदेश सरकार ने कक्षा 1 से 8वीं के छात्रों के लिए 15 अप्रैल 2021 तक सभी सरकारी और निजी स्कूलों को बंद करने का फैसला किया है.

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कुल COVID-19 मरीज़ों का आंकड़ा 1,20,95,855 पहुंच गया है, क्योंकि पिछले 24 घंटे के दौरान संक्रमण के 56,211 नए केस सामने आए हैं. पिछले 24 घंटों के दौरान भारतभर में 271 कोरोना मरीज़ों की मौत भी हुई है. 

कोरोना Coronavirus ने बढ़ाई सरकार की टेंशन कोरोना Coronavirus ने बढ़ाई सरकार की टेंशन Reviewed by alok kumar on Tuesday, March 30, 2021 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.