top stories in hindi news India hindi news

 दर्द कहां तक पाला जाए,

युद्ध कहां तक टाला जाए,

तू भी है राणा का वंशज,

फेंक जहां तक भाला जाए…


दिल्ली में लॉकडाउन, बाकी राज्यों में कब लगेगा?

top stories in hindi news bihar hindi news zee news hindi

दिल्ली में लॉकडाउन के बाद कुछ और राज्यों ने अपने यहां लॉकडाउन लगाने के संकेत दिए हैं. तस्वीर आंनद बिहार बस अड्डे की है जहां लोग अपने घर जाने के लिए बसों का इंतजार कर रहे हैं. (फोटो-PTI)

दिल्ली में लॉकडाउन (lockdown) चल रहा है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 19 अप्रैल की रात 10 बजे से सोमवार, 26 अप्रैल सुबह 6 बजे तक देश की राजधानी में लॉकडाउन की घोषणा की है. उन्होंने लोगों से अपील की थी कि दिल्ली छोड़कर न जाएं.  कहा था, “मैं हूं ना, मुझ पर भरोसा रखें…” लेकिन मुख्यमंत्री की इन बातों पर जनता को भरोसा नहीं हुआ. नतीज़ा, पिछले साल जैसा माहौल एक बार फिर राजधानी दिल्ली में दिखाई दिया. शाम होते-होते आनंद विहांर बस टर्मिनल में लोगों की भीड़ जुट गई. लोग अपने घर जाने के लिए सामान सहित पहुंचे. अधिकतर लोग बिहार और उत्तर प्रदेश की बसों में बैठ घर पहुंच जाना चाहते थे.

top stories in hindi news India hindi news


केंद्र सरकार ने लॉकडाउन का फैसला राज्य सरकारों पर छोड़ दिया है. दिल्ली में लॉकडाउन के बाद ऐसी खबरें आ रही हैं कि अन्य राज्यों में भी लॉकडाउन लग सकता है. महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, झारखंड, बिहार और गुजरात की सरकारें अपने यहां लॉकडाउन लगाने की बात को लेकर क्या कह रही हैं? क्या है इन सरकारों का प्लान?


महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. यहां मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने 14 अप्रैल की रात 8 बजे से एक मई तक सख्त कर्फ्यू की घोषणा की है. सरकार ने इसे मिनी लॉकडाउन कहा है. महाराष्‍ट्र में धारा 144 लागू है. एक साथ एक जगह 5 या इससे ज्‍यादा लोग सार्वजनिक स्‍थानों पर खड़े नहीं हो सकते. जरूरी सेवाओं को छोड़कर सारी चीजें बंद हैं. लेकिन बात बन नहीं रही है. हर दिन 60 हजार के करीब केस आ रहे हैं. इसके बाद माना जा रहा है कि दिल्ली की तर्ज पर मुंबई समेत पूरे राज्य में टोटल लॉकडाउन लग सकता है.


Patna

महाराष्ट्र में मिनीलॉकडाउन की घोषणा के बाद ही प्रवासी मजदूर अपने घरों को लौटने लगे.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, राहत और पुनर्वास मंत्री विजय वडेट्टीवार का कहना है कि सरकार दिल्ली में लगाए गए लॉकडाउन का अध्ययन कर रही है. इसके आधार पर राज्य में लॉकडाउन की घोषणा पर कोई फैसला लेगी. उन्होंने कहा कि कर्फ्यू का कोई फायदा नहीं हो रहा है. ‘कम्प्लीट लॉकडाउन का सबसे ज्यादा विरोध छोटे व्यापारी कर रहे थे, लेकिन अब वे खुद इसकी मांग कर रहे हैं. कुछ जिलों से भी यही मांग उठ रही है. मुख्यमंत्री जल्द ही इस पर सभी दलों से चर्चा करने वाले हैं. उसके बाद पूरे राज्य में लॉकडाउन घोषित किया जा सकता है. आज उद्धव कैबिनेट की एक बैठक भी है. माना जा रहा है कि इसी के बाद कोई बड़ा ऐलान हो सकता है.

उत्तर प्रदेश

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी के पांच जिलों में प्रयागराज, लखनऊ, वाराणसी, कानपुर नगर और गोरखपुर में लॉकडाउन लगाने का निर्देश दिया था. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी है. आजतक के संजय शर्मा की रिपोर्ट के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि क्यों न इस मामले की सुनवाई हाईकोर्ट ही करे, क्योंकि हमारे पास कई केस लंबित हैं. लॉकडाउन पर इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ योगी सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंची थी.


यूपी सरकार की ओर से कहा गया है कि प्रदेश में कई कदम उठाए गए हैं. आगे भी सख्त कदम उठाए जा रहे हैं. जीवन बचाने के साथ ही गरीबों की आजीविका भी बचानी है. इसके चलते शहरों में संपूर्ण लॉकडाउन अभी नहीं लगेगा. कोर्ट के फैसले से पहले मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से कहा गया था कि राज्य में पूर्ण तालाबंदी लागू करने की आवश्यकता नहीं है.


Complete Lockdown In Lucknow

हाईकोर्ट के फैसले के बाद लखनऊ में लोग जरूरी समान लेने के लिए निकल पड़े 

सरकार ने वीकेंड लॉकडाउन को पूरे प्रदेश के लिए लागू कर दिया है. होम डिपार्टमेंट के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी अवनीश के अवस्थी ने इसकी जानकारी दी है. शनिवार और रविवार को वीकेंड लॉकडाउन रहेगा. वीकेंड लॉकडाउन की शुरुआत शुक्रवार रात 8 बजे से होगी, वीकेंड लॉकडाउन सोमवार 7 बजे तक जारी रहेगा. 500 से ज्यादा एक्टिव केस वाले जिलों में नाइट कफ्यू जारी रहेगा. यूपी सरकार में मंत्री सिद्धार्थ सिंह का कहना है कि दिल्ली के CM ने जल्दी में लॉकडाउन लगाया, जिसकी वजह से लोग परेशान हो रहे हैं. कल रात को हमने लॉकडाउन का प्रभाव गाजियाबाद, नोएडा बॉर्डर पर देखा. दिल्ली की बसों ने लोगों को बॉर्डर पर लाकर छोड़ दिया. यूपी CM ने कल ही उन लोगों को उनके घर पहुंचाने का काम शुरू किया.

top stories in hindi news India hindi news


झारखंड

मीडिया में चल रही खबरों की मानें तो झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन राज्य में लॉकडाउन का ऐलान किसी भी वक्त कर सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक झारखंड में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने की तैयारी है. लॉकडाउन की पांबदियों को लेकर सरकार के स्‍तर पर सोमवार, 19 अप्रैल को पूरे दिन गहन मंथन किया गया.

Ranchi

तस्वीर रांची की है. दिल्ली में लॉकडाउन की घोषणा के बाद लोग अपने घर चल दिए. (फोटो-PTI)

राज्‍य में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर भाजपा,  कांग्रेस और आरजेडी ने भी झारखंड में संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की मांग सीएम हेमंत सोरेन से की है. पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने राज्य में कोरोना चेन तोड़ने के लिए सरकार से एक सप्ताह का पूर्ण लॉकडाउन लगाने की मांग की है. सूत्रों के मुताबिक झारखंड में संपूर्ण लॉकडाउन, वीकेंड लॉकडाउन, एक हफ्ते का लॉकडाउन, 10 दिनों का लॉकडाउन, राज्‍य के अलग-अलग हिस्‍सों में लॉकडाउन लगाने और धारा-144 के साथ ही दिन-रात का कर्फ्यू राज्‍यभर में लगाने जैसे अलग-अलग कई विकल्‍पों पर गंभीर चर्चा हो रही है.


गुजरात

गुजरात सरकार राज्य में लॉकडाउन लगाने के पक्ष में नहीं है. गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल का कहना है कि कोई सबूत नहीं कि लॉकडाउन से संक्रमण की चेन टूटती है. पटेल ने मीडिया से कहा कि कई राज्यों और देशों में लॉकडाउन के बाद भी कोविड के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है. पहली वेव में हम लॉकडाउन से ट्रांसमिशन चेन तोड़ सकते थे, लेकिन दूसरी वेव में वायरस बहुत ज्यादा संक्रामक है. नितिन पटेल राज्य के स्वास्थ्य मंत्री भी हैं. उन्होंने कहा कि हम नाइट कर्फ्यू जारी रखेंगे, क्योंकि कई लोग होटल, रेस्टोरेंट, पान की दुकान जाते हैं और संक्रमण की संभावना बढ़ाते हैं. कोई राज्य पूर्ण लॉकडाउन नहीं लगा रहा है.


Covid 19 Cases In Ahmedabad

गुजरात में कोरोना के मामले बढ़े हैं. हालांकि राज्य सरकार का मानना है कि सिर्फलॉकडाउन से कोई फायदा नहीं होने वाला है. फोटो- PTI

वहीं कुछ दिन पहले गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने भी कहा था कि सरकार लॉकडाउन लगाने के पक्ष में नहीं है, क्योंकि वह गरीबों पर इसके प्रभाव पर विचार कर रही है. उन्होंने गांवों में या शहरों में बाजार संघों द्वारा स्थानीय स्तर पर स्वैच्छिक रूप से लॉकडाउन किए जाने का स्वागत किया था.


छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ के ज्यादातर जिलों में लगभग लॉकडाउन लगा हुआ है. वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सभी 28 जिलों में लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है. अलग-अलग तारीखों तक सभी जिलों में पाबंदियां रहेंगी. आल इंडिया रेडिया न्यूज का ये ट्वीट देखिए.


इसके साथ ही सीएम बघेल ने सभी जिलों से लगने वाली अंतरराज्यीय सीमा को सील करने का निर्देश दिया है. जिन ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा संक्रमण के मामले आ रहे हैं, वहां गांवों में हर व्यक्ति की जांच के लिए विशेष अभियान चलाया चलाया जा रहा है.


Coronavirus Updates: कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोरोना से संक्रमित हुए, ट्वीट कर दी जानकारी
वायनाड से सांसद और कांग्रेस नेता राहुल गांधी.


देश भर में कोरोना वायरस से संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. हर दिन लाखों में नए मामले सामने आ रहे हैं और हज़ारों लोगों की मौत हो रही है. 20 अप्रैल को कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोरोना से संक्रमित हो गए. राहुल के अलावा  मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं.


राहुल गांधी कोरोना पॉजिटिव

वायनाड से सांसद और कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इस बात की जानकारी उन्होंने ट्वीट कर दी है. जिसमें उन्होंने लिखा,

राहुल गांधी कोरोना पॉजिटिव


हल्के लक्षण पाए जाने के बाद मेरा कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है. जो कोई भी हाल में मेरे संपर्क में आए हैं, वो सेफ्टी प्रोटोकॉल को फॉलो करें और सुरक्षित रहें.


उत्तर प्रदेश के दर्जा प्राप्त मंत्री हनुमान प्रसाद की मौत

कोरोना वायरस से उत्तर प्रदेश के दर्जा प्राप्त मंत्री हनुमान प्रसाद मिश्र की मौत हो गई है. उनका इलाज़ लखनऊ के संजय गांधी पोस्टग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज, लखनऊ में चल रहां था. पिछले कुछ दिनों से उनकी तबीयत ठीक नहीं चल रही थी, जिसके बाद उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था.


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ वह कैंसर से भी पीड़ित थे.


कवि वाहिद अली वाहिद की कोरोना से मौत

मूल रूप से कुशीनगर के रहने वाले कवि वाहिद लखनऊ में रह रहे थे. रिपोर्ट्स के मुताबिक़ उन्हें पिछले तीन दिनों से बुखार था लेकिन इलाज़ के लिए उन्हें हॉस्पिटल में जगह नहीं मिली. वाहिद हृदय रोग से भी पीड़ित थे.


वाहिद अपनी इन पंक्तियों के लिए ख़ासे लोकप्रिय रहे-


दर्द कहां तक पाला जाए,

युद्ध कहां तक टाला जाए,

तू भी है राणा का वंशज,

फेंक जहां तक भाला जाए…


पूर्व सांसद जगदीश राणा की मौत

उत्तर प्रदेश की सहारनपुर सीट से सांसद रहे जगदीश राणा की मौत कोरोना वायरस की वजह से हो गई है. 19 मार्च की देर रात उनका निधन हुआ है. वह 67 बरस के थे. जगदीश पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे. हाल की में उनकी कोविड रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी.


जगदीश 2009 में सहारनपुर सीट से बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर चुनाव जीते थे. 2014 का चुनाव वह सहारनपुर से ही हारे थे. 2017 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले जगदीश बीजेपी से जुड़े थे.


हिंदी उर्दू साहित्य के बड़े नाम मुशर्रफ आलम जौकी नहीं रहे

मूल रूप से भोजपुर, बिहार के रहने वाले मुशर्रफ आलम जौकी का निधन कोविड की वजह से हो गया है. 19 मार्च को निधन की रिपोर्ट आई. हिंदी उर्दू के कई साहित्यकारों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है. उनकी चर्चित रचनाओं में उपन्यास ‘मुसलमान’, ‘उकाब की आंखें’, ‘नीलामघर’, ‘बयान’, ‘शहर चुप है’ आदि प्रमुख हैं.


सुशील चंद्रा और राजीव कुमार कोरोना संक्रमित 

मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा और इलेक्शन कमिश्नर राजीव कुमार कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं. चुनाव आयोग के दो टॉप अधिकारियों के कोरोना संक्रमित होने से हड़कंप मच गया है.


सुशील चंद्रा हाल ही में नए मुख्य चुनाव आयुक्त बनाए गए हैं. इससे पहले सुनील अरोड़ा मुख्य चुनाव आयुक्त थे. सुशील का कार्यकाल 14 मई 2022 तक रहेगा. इस दौरान वो गोवा, मणिपुर, उत्तराखंड, पंजाब और उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों का कामकाज देखेंगे.


केंद्रीय मंत्री जिंतेंद्र सिंह कोरोना संक्रमित

केंद्रीय मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जिंतेंद्र सिंह ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं. उन्होंने लिखा है कि अगर हाल में आप मेरे संपर्क में आए हैं तो स्क्रीनिंग करवा लें और अपना ध्यान रखें.


केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान सहित कई नेताओं ने जितेंद्र सिंह के जल्द से जल्द ठीक होने की कामना की है.


सांसद सुरेंद्र सिंह कोरोना पॉजिटिव

राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. इस बात की जानकारी उन्होंने ट्वीट करके दी. उन्होंने खुद को होम आइसोलेट कर लिया है.


सुरेंद्र अगस्त 2019 से बीजेपी के साथ हैं. इससे पहले वह समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी के साथ भी रहे हैं. मूलतः बुलंदशहर से आने वाले सुरेंद्र 1998 में पहली बार विधान परिषद् पहुंचे थे. इसके बाद 2009 में सांसदी जीतकर नई दिल्ली पहुंचे थे.


सीएम केजरीवाल ने खुद को आइसोलेट किया

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खुद को आइसोलेट कर लिया है क्योंकि उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई हैं. सुनीता ने खुद को क्वारंटाइन कर लिया है.


सुनीता 1993 बैच की आईआरएस अधिकारी रहीं हैं. 2016 में उन्होंने स्वेच्छा से रिटायरमेंट लिया था. करीब 22 सालों तक वह इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के साथ काम कर चुकी हैं.


केरल की स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने भी खुद को क्वारांटाइन कर लिया है. शैलजा के बेटे और उनकी बहू कोरोना से संक्रमित पाई गईं हैं.


कितने लोगों को वैक्सीन लगी?

कोविन वेबसाइट के मुताबिक़ अब तक 10 करोड़ 91 लाख से अधिक आबादी को वैक्सीन की पहली डोज़ दी जा चुकी है. वैक्सीन की दूसरी डोज़ अब तक करीब 1.68 करोड़ लोगों को लगी है.


वीडियो- लॉकडाउन के बाद आनंद विहार से जो तस्वीरें आ रही हैं, वो कोरोना संकट और बढ़ा देगा!

top stories in hindi news India hindi news top stories in hindi news India hindi news Reviewed by alok kumar on Tuesday, April 20, 2021 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.